Friday , November 22 2019
Breaking News
Home / प्रादेशिक ख़बरें / मुख्यमंत्री की चिट्ठी के जवाब में कांग्रेस की चिट्ठी

मुख्यमंत्री की चिट्ठी के जवाब में कांग्रेस की चिट्ठी

भोपाल।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रक्षाबंधन पर महिलाओं को एक भावुक पत्र लिखकर प्रदेश के विकास के लिए अगले पांच साल और मांगे हैं। चिट्ठी में उन्होंने महिलाओं के लिए किए गए कामों के साथ-साथ 13 साल के कार्यकाल की उपलब्धि बताई हैं। यह चिट्ठी प्रदेश की 2 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को भेजी जा रही हैं। इसके जवाब में कांग्रेस भी चिट्ठी लिख रही है, लेकिन यह चिट्ठी प्रदेश की महिलाओं को नहीं, बल्कि प्रदेश की 10 लाख महिला कांग्रेस कार्यकर्ता मुख्यमंत्री को भेजेंगी। इस चिट्ठी में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाये गए हैं, और मुख्यमंत्री पर निशाना साधा गया है।

कांग्रेस की इस चिट्ठी में कहा गया है सदियों से बहने रक्षा बंधन के इस पवित्र धागे के माध्यम से अपने भाइयों से सुरक्षा देने का वादा मांगती है इतिहास में पहला अवसर है जब एक आपके जैसा शक्तिशाली भाई अपनी सुरक्षा का वादा बहनों से मांग रहा है, इस दृष्टिकोण से यह परंपरा ही उल्टी हो गई है और नर्मदा जी अमरकंटक की तरफ बढ़ाई जा रही है।

चिट्ठी में सीएम के लिए लिखा गया है, प्रदेश विगत 15 सालों में बहनों को सुरक्षा देने में असफल साबित हुआ है, ऐसा मोदी सरकार भी बता रही है, प्रदेश में आप के राज में 46000 बहने और आप की भांजियां बलात्कार का शिकार हुई है, महिला अपराध, छेड़छाड़, मानव तस्करी और बाल अपराध में प्रदेश कुख्यात हो गया है|  कुपोषण से बच्चे मर रहे हैं|  पिछले 5 साल में 49 लाख कुपोषित बच्चे सामने आए हैं, 7 हजार बच्चे प्रति वर्ष अपने जन्म के 28 दिन नहीं देख पाते, 90000 बच्चे अपना पांचवां जन्मदिन नहीं मना पाते, 75 लाख बच्चे खून की कमी के शिकार है। इस सबके बाद भी क्या आप बहनों को सुरक्षा देने की बजाय उन से ही सुरक्षा मांगने का हक रखते हैं|

चिट्ठी में लिखा गया है प्रदेश की एक सजग महिला के नाते मेरा आपसे आग्रह है कि सीएम अपनी चिट्ठी में आपके सरकार की असफलताओं पर भी प्रकाश डालें ताकि बहना यह फैसला कर सके कि उन्हें वोट के लिए गिड़गिड़ाने वाला भाई चाहिए यह सुरक्षा कवच देने वाला।

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *