Friday , November 22 2019
Breaking News
Home / खेल / टेस्ट का ‘डॉन’ बनने की ओर विराट कोहली, ब्रैडमैन-पोंटिंग छूटे पीछे

टेस्ट का ‘डॉन’ बनने की ओर विराट कोहली, ब्रैडमैन-पोंटिंग छूटे पीछे

नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर से आईसीसी की टेस्ट रैंकिंग में टॉप नंबर हासिल कर लिया है. सीरीज के पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में 200 रन बना कर विराट कोहली ने टेस्ट में पहला स्थान हासिल कर लिया था, लेकिन लॉर्ड्स टेस्ट में पारी और 159 रनों की करारी हार के बाद विराट रैंकिंग में दुबारा नंबर 2 पर खिसक गए थे. अब नॉटिंघम में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में 97 और दूसरी पारी में 103 रन बनाकर वह 937 अंकों के साथ एक बार फिर पहले स्थान पर काबिज हो गए हैं. बता दें कि 5 टेस्ट मैचों की सीरीज में 0-2 से पिछड़ने के बाद ट्रेंट ब्रिज, भारत ने इंग्लैंड को 203 रनों के बड़े अंतर से मात दी. विराट ने इस मैच की पहली पारी में 97 और दूसरी पारी में 103 रन बनाए थे. यह कोहली का 23वां टेस्ट शतक था. विराट कोहली को इस मैच में ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ का खिताब मिला.

विराट कोहली के इस शानदार प्रदर्शन के बाद उनके 937 रेटिंग प्वाइंट हो गए हैं. यह विराट के टेस्ट करियर के सर्वाधिक प्वाइंट हैं. दो सप्ताह पहले इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में कोहली ने 149 और 51 रनों की पारी खेली थी. लॉर्ड्स टेस्ट में विराट कोहली 23 और 17 रन ही बना पाए थे.

इस रिकॉर्ड से महज 1 अंक दूर

विराट कोहली ने टॉप स्पॉट पर रहे ऑस्ट्रेलिया के प्रतिबंधित खिलाड़ी स्टीव स्मिथ को हटाकर पहले नंबर पर अपनी जगह बना ली है. कोहली ऑल टाइम सर्वाधिक प्वाइंट से महज एक अंक दूर हैं. इस लिस्ट में में डॉन ब्रेडमैन (961), स्टीव स्मिथ (947), लेन हटन (945), जैक होब्स और रिकी पोन्टिंग (दोनों के 947), पीटर मे (941) और गैरी सोबर्स, क्लाइड वालकाट, विवियन रिचर्ड्स और कुमार संगकारा (सभी के 938 प्वाइंट) रहे हैं.

विराट ने ब्रैडमैन को छोड़ा पीछे

नॉटिंघम टेस्ट कोहली के लिए निजी रूप से बेहद सफल रहे. विराट कोहली पहले ऐसे कप्तान बने हैं, जिन्होंने सातवीं बार एक टेस्ट में 200 या उससे अधिक रन बनाकर टीम को जीत दिलाई. कोहली ने डॉन ब्रैडमैन और रिकी पोन्टिंग के छह बार 200 या उससे अधिक रन बनाकर टीम को जीत दिलाने के रिकॉर्ड को तोड़ा है. बता दें कि विराट कोहली ने कप्तान रहते हुए 10 बार 200 से ज्यादा रन बनाए हैं जो कि किसी भारतीय कप्तान के लिए खुद में एक रिकॉर्ड है.

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी एक बार यह करिश्मा कर पाए हैं, जब 2013 में चेन्नई में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में 224 रन बनाकर टीम को जितवाया था. रैंकिंग में हार्दिक पांड्या को 27 अंकों का फायदा हुआ और वह 17वें नंबर पर पहुंच गए हैं. हार्दिक पांड्या ने तीसरे टेस्ट में पांच विकेट लिए थे और अर्द्धशतक बनाया था.

बता दें कि टीम इंडिया ने अपने इंग्लैंड दौरे की शुरुआत टी-20 सीरीज को 2-1 से जीतने के साथ की थी. इसके बाद वन-डे सीरीज में भारत को 1-2 से हार का सामना करना पड़ा था. 3-3 मैचों की टी-20 और वन-डे सीरीज के बाद भारत-इंग्लैंड के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज की शुरुआत हुई. पहले दो टेस्ट मैचों की हार के बाद भारत ने तीसरे टेस्ट में जीत हासिल कर सीरीज में वापसी कर ली है.

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *